कटारिया और रघुवीर मीणा पर हार का खतरा : POST POLL SURVEY

मेवाड़ की 28 सीटों की कल मतदान हुआ, जहा 70% से ज्यादा मतदान हुआ परन्तु 2013 की अपेक्षा कई स्थानों उत्साह में कमी दिखी। मेवाड़ के उदयपुर जिले की 8, बाँसवाड़ा की 5, डूंगरपुर की 4, राजसमन्द को 4, चित्तोडगढ की 5 और प्रतापगढ़ की 2 सीटो के लिए मतदान हुआ| 2013 की तरह इस बार ना कोई लहर दिखी बस मतदाता इस बार प्रत्याशी की योग्यता के प्रति सजग दिखा। भाजपा का वोटर ज्यादा मुखर दिखा परन्तु अन्य पार्टी के वोटर ज्यादा कर्तव्य परायण नजर आया जो बदलाव के…

Read More

मंत्रीजी! आपने कन्यादान में हैंडपंप देने की घोषणा की थी, क्या हुआ?

विवाह सम्मेलन में मंत्री सुशील कटारा ने 28 बेटियों को कन्यादान में दिए थे हैंडपंप डेढ़ साल बाद भी नहीं मिले ताे ससुराल वाले पूछ रहे पीहर से कब आएगा मंत्रीजी! आपने कन्यादान में हैंडपंप देने की घोषणा की थी, पूरी नहीं हुई, आचार संहिता से पहले लगवा देते, पहली बार होता कि बेटियां पानी लेकर ससुराल जाती। जी हां, ये शब्द और आक्रोश सीमलवाड़ा क्षेत्र के पाटीदार समाज के उन युवाओं और लोगों के है जो 28 मार्च 2017 में सामूहिक विवाह आयोजन में मंत्री की घोषणा के साक्षी…

Read More

बांसवाड़ा की 5 विधानसभा सीटों के लिए 38 ने जताई दावेदारी

Banswara News | Mewar Sandesh

नामांकन जमा करवाने के अंतिम दिन तक बांसवाड़ा की पांच विधानसभा सीटों पर 38 जनों ने दावेदारी जताई है। बांसवाड़ा विधानसभा क्षेत्र से 6 प्रत्याशियों ने 9 नामांकन प्रस्तुत किए, जिसमें निर्दलीय छगनलाल, निर्दलीय दलीचन्द मईड़ा, प्रभुलाल मईडा, रूपचन्द ने नामांकन प्रस्तुत किए। धनसिंह ने बीजेपी से एक एवं निर्दलीय के रूप में दो तथा हकरू मईडा ने बीजेपी से दो नामांकन प्रस्तुत किए। घाटोल में 6 प्रत्याशियों ने 7 नामांकन प्रस्तुत किए जिसमें से जेडीयू के बापुड़ा ने एक, बीएसपी के लक्ष्मण ने एक, निर्दलीय मदनलाल मईड़ा ने एक,…

Read More

बांसवाड़ा में सामान्य वर्ग के वोट बिगाड़ सकते हैं समीकरण

Banswara News | Mewar Sandesh

बांसवाड़ा | एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के बाद सामान्य वर्ग बाजार बंद रखकर अपना विरोध जताने के साथ ही नोटा को वोट करने की बात कह चुका है। अगर ऐसा होता है तो जिले में गढ़ी और बांसवाड़ा विधानसभा की सीटों का समीकरण बिगड़ सकता है। दोनों ही विधानसभा क्षेत्र में सामान्य वर्ग निर्णायक भूमिका अदा करता आया है। गढ़ी में जहां कुल वोटर्स में करीब 38 फीसदी सामान्य वर्ग के वोट तो बांसवाड़ा में भी 35 फीसदी सामान्य वर्ग के वोटर्स है। सबसे कम प्रभावित क्षेत्र है तो कुशलगढ़…

Read More

अभी तक क्यों नहीं ढंके लोकार्पण-शिलान्यास के शिलालेख ?

विधानसभा चुनाव को लेकर आदर्श आचार संहिता लगे 23 दिन बीतने के बावजूद प्रशासन ने अभी तक लोकार्पण-शिलान्यास के शिलालेख नहीं ढंके हैं। जिले के विभिन्न सरकारी भवनों समेत अन्य जगहों के लगे शिलालेख नेताओं का प्रचार प्रसार कर रहे हैं। बावजूद इसके अब तक इन्हें ढंका नहीं है। ये शिलालेख मौजूदा सरकार से लेकर पूर्ववर्ती सरकार और केंद्र सरकार के कार्यों के भी हैं। जिन पर विभिन्न सरकारों के कार्यकाल के दौरान किए गए कार्यों, योजनाओं और नेताओं के नाम लिखे हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि अधिकांश…

Read More